India

नवीन जिंदल ने किया जी न्यूज का पर्दाफाश करने का दावा

BeyondHeadlines News Desk

नई दिल्ली. कांग्रेसी सांसद नवीन जिंदल ने हिंदी समाचार चैनल जी न्यूज और जी बिजनेस पर खबरें न प्रकाशित करने के बदले में 100 करोड़ रुपये मांगने का आरोप लगाया है. नई दिल्ली में प्रेस वार्ता करके नवीन जिंदल ने एक वीडियो भी जारी किया जिसमें कथित तौर पर जी न्यूज के संपादकों को पैसा मांगते हुए दिखाया गया है. हालांकि नवीन जिंदल द्वारा पेश किए गए इस वीडियो की सत्यता का दावा नहीं किया जा सकता.

नवीन जिंदल ने कहा कि जी न्यूज ने पत्रकारिता के तमाम सिद्धांतों और नियमों को ताक पर रखकर उन्हें ब्लैकमेल करने की कोशिश की. नवीन जिंदल ने कहा, ‘पूरा मामला कोर्ट में है. इसलिए हम इस पर सार्वजनिक तौर पर कुछ कहने से बच रहे थे लेकिन अब मामला उल्टा चोर कोतवाल को डांटे जैसा हो गया है इसलिए हम सबूत पेश कर रहे हैं. अभी जो वीडियो हमने दिया है वो अधूरा है. अभी हमारे पास बहुत रिकार्डिंग हैं जिनमें और भी बहुत कुछ धमाकेदार निकलेगा.’

नवीन जिंदल ने कहा, ‘दस सितंबर को जी न्यूज की ओर से हमसे बीस करोड़ रुपये मांगे गए. हमारी कंपनी के प्रबंधन को इस बात से झटका लगा. इसके बाद 13 सितंबर, 17 सितंबर और 19 सितंबर को जी न्यूज से हमारी बैठक हुई. वो इन बैठकों के बाद खबर रोकने के लिए बीस करोड़ के बजाए सौ करोड़ रुपये मांगने लगे.’

वहीं पूरे मामले पर जी न्यूज ने अपनी सफाई में कहा है कि वो कोयला घोटाले में जिंदल की भूमिका का पर्दाफाश कर रहा था. जी न्यूज ने दावा किया है कि बैठक एक डमी कांट्रेक्ट पर नवीन जिंदल के हस्ताक्षर लेने के लिए की गई थी. हालांकि जी न्यूज इस कथित डमी कांट्रेक्ट पर नवीन जिंदल के हस्ताक्षर नहीं ले सका.

इस पूरे ब्लैकमेलिंग प्रकरण के बाद इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की संस्था ब्रॉडकॉस्ट एडिटर्स एसोसिएशन ने जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी को संस्था से हटा दिया है. फिलहाल पूरा मामला अदालत के अधीन है.

Loading...

Most Popular

To Top