India

24 अप्रैल मोदी के नॉमिनेशन के लिए अशुभ !

BeyondHeadlines News Desk

नरेंद्र मोदी 24 अप्रैल को वाराणसी लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल करेंगे.  इस बात का ऐलान मोदी के ख़ास सिपहसालार अमित शाह ने एक प्रेस कांफ्रेस में किया है.

अमित शाह का कहना है कि नरेंद्र मोदी जैसे ही वाराणसी से पर्चा भरेंगे, उसके बाद मोदी की जो देश में लहर है, वो सुनामी में तब्‍दील हो जाएगी. लोकिन बनारस के पंडितों व ज्योतिषियों का मानना है कि 24 अप्रैल नामांकन के लिए शुभ नहीं है, क्योंकि उस दिन सुबह 8.25 बजे से शाम 7.15 बजे तक भद्रा काल रहेगा.

ज्योतिषी डॉ. कामेश्वर उपाध्याय के मुताबिक 24 अप्रैल को सुबह 8.25 बजे से शाम 7.15 बजे तक भद्रा है. इस अवधि को सर्व कार्य विनाशकारिणी माना जाता है. इस अवधि में सामान्यतः शुभ कार्य, शुभ संकल्प नहीं लिए जाते. किसी बड़े उद्देश्य से लिए गए संकल्प के विफल होने में भद्रा ही पर्याप्त है. 24 अप्रैल को मर्त्य लोक की भद्रा है. यह जीवन एवं धन को हानि पहुंचाने वाली मानी जाती है.

वहीं ज्योतिषी विमल जैन का मानना है कि मोदी गुजरात के ज्योतिषियों पर अधिक भरोसा करेंगे. फिर भी 24 अप्रैल को सुबह 8.51 बजे से रात्रि 7.44 बजे तक भद्रा है. इसके अलावा दिन में 1.30 से अपराह्न 3 बजे तक राहु काल है. दोनों ही नामांकन क्या, किसी भी शुभ कार्य के लिए उपयुक्त अवधि नहीं है. 24 अप्रैल के साथ एक ही अनुकूलता है कि तिथि के साथ गुरूवार का दिन जुड़ा हुआ है. बीच में 11.36 से दोपहर 12.24 बजे तक अभिजीत मुहूर्त भी मिल रहा है, लेकिन तय करेगा कि मोदी के ज्योतिषी किस तरह से गणना करते हैं.

स्पष्ट रहे कि काशी में ज्योतिषी गणना का बहुत मान है. और स्थानीय ज्योतिषियों ने 22 अप्रैल की तिथी को सबसे उपयुक्त माना था, क्योंकि 22 अप्रैल को सिंह लग्न दिन में 1.16 बजे से 3.30 बजे के बीच है. मोदी के कुंडली के हिसाब से यह लग्न बहुत शुभ है.

Loading...

Most Popular

To Top