India

किसी राजनैतिक दल के घोषणा-पत्र में सैनिकों की बात नहीं

BeyondHeadlines News Desk

वाराणसी: आज़ादी के बाद देश की रक्षा के लिए कई लड़ाई लड़ने वाले सैनिकों के विकास की बात को किसी राजनैतिक दल ने अपने घोषणा-पत्र में शामिल नहीं किया है. इससे पूर्व सैनिकों में काफी रोष है.

वायु सेना में सेवा दे चुके राम नारायण पाठक के शास्त्री नगर स्थित आवास पर हुई बैठक में राजनैतिक दलों के सोच पर चिंतन-मनन किया गया.

बैठक में सैनिक समाज के संयोजक राम नारायण पाठक ने कहा कि चाणक्य ने कहा था कि जिस देश की सेना को अपने हक़ के लिए हाथ फैलाना पड़े, उस देश का भगवान ही मालिक है.

अध्यक्षता करते हुए कर्नल लाल जी चौबे ने कहा कि सैनिक उपेक्षित महसूस कर रहे हैं. जिन सैनिकों ने अपने देश के लिए अपनी जान की बाज़ी लगा दी, आज उनका परिवार भूखों मर रहा है.

इस बैठक में सत्य नारायण वर्मा, कर्नल चंद्रदेव मिश्रा, प्रो. वशिष्ट सिंह, दुर्गा प्रसाद पाठक आदि उपस्थित थे. संचालन राम नारायण पाठक ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन चंद्रदेव मिश्रा ने दिया.

Loading...

Most Popular

To Top