Exclusive

चुनाव आयोग लड़ा रहा है बीजेपी को चुनाव –आज़म खान

Afroz Alam Sahil for BeyondHeadlines

चुपचाप बनारस पहुंचे आज़म खान ने आज काशी के ज़मीन पर दाखिल होते ही चुनाव आयोग पर हमला बोल दिया. मुफ्ती-ए-बनारस अब्दुल बातिन नोमानी से मिलने पहुंचे आज़म खान ने यह भी साफ किया कि वे वोटों के खातिर मुफ्ती से मिलने आए हैं. आज़म ने यह बात छिपाई नहीं, इसके बावजूद कि चुनाव आयोग ने उन्हें चुनाव प्रचार से बैन कर रखा है.

अमित शाह के आज़मगढ़ में दिए भड़काउ भाषण का हवाला देते हुए आज़म खान ने चुनाव आयोग को इस बाबत जमकर कोसा कि उसने अमित शाह को रियायत क्यों दी, और उन्हें बैन क्यों कर दिया. आज़म ने साफ शब्दों में कहा कि चुनाव आयोग उनकी ज़बान पहले ही काट चुका है और अगर आयोग चाहे तो वे अपना गला भी हाज़िर कर सकते हैं.

आज़म खान इतने पर ही नहीं रूके. उन्होंने चुनाव आयोग पर गंभीर आरोप जड़ दिया. आज़म खान ने चुनाव आयोग पर सीधा आरोप लगाया कि वह बीजेपी को चुनाव लड़वा रहा है. आज़म ने मोदी व अमित शाह का हवाला देते हुए चुनाव आयोग पर पक्षपात का आरोप भी जड़ दिया.

नरेन्द्र मोदी की आज फैज़ाबाद की रैली में मंच पर भगवान श्रीराम का पोस्टर लगा हुआ था. आज़म खान ने इसे भी निशाना बनाते हुए चुनाव आयोग पर गंभीर सवाल खड़े किए. उन्होंने मोदी को 2002 में इंसानों का खून बहाने वाला शख्स क़रार दिया.

पेश है आज़म खान की खरी-खरी, बनारस की चुनावी ज़मीन पर… 

क्यूं आए आजम बनारस

“ऐसे भी मिलने आये हैं और चुनाव के सिलसिले में भी मिलने आये हैं. दोनों के लिए आये हैं. मुसलमानों की ज्यादा ज़िम्मेदारी है, देश को बचाने की. हम समझते हैं, कारगिल की पहाड़ियाँ भी जीती हैं और राजनीति को भी जीतना चाहिए.”

क्यूं नहीं मानेंगे इलेक्शन कमीशन का फरमान

“इसलिए कि इलेक्शन कमिशन ने जो रास्ता अख्तियार किया है, वो कम्युनल ताकतों को मज़बूत करने का है. अमित शाह को छोड़कर हमारी जुबान बंदी कर दी. अमित शाह ने जो कहा है कि सपा ने आज़मगढ़ को आतंक का गढ़ बना दिया है, आज़म की ये कहने की हिम्मत तब हई जब इलेक्शन कमीशन ने हमारी जुबान बंद कर दी और उनको छोड़ दिया. और उससे बड़ा पाप आज हो रहा है अयोध्या में, जहां मोदी जी ने रामचंद्र की तस्वीर लगा कर वोट मांगा है. हमारे जवान ने जान की बाज़ी लगाकर पाकिस्तान से पहाड़ियां छीनी और मोदी जी हर हर महादेव व मोदी का नारा लगाकर देश को परेशां कर रहे हैं.”

क्यूं कहा चुनाव आयोग को कि गला हाजिर है

“हमने कहा आपने  हमारी जुबान काटी है, गला हाजिर है हमारा…”

क्या बात हुई मुफ्ती ए बनारस से

“हमने कहा दुआ कीजिए, मुल्क सलामत रहे, लोग सही फैसला ले. हम अपने मज़हबी बुजुर्गों से पार्टी, सिंबल, या नाम की नहीं, उसूलों की बात करते हैं…”

क्या मुलाकात का मकसद सियासी था

“यकीनन ….यकीनन …”

जालिम कौन

“कुत्ते के बच्चे! बताओ किसने कहा था कि हम कुत्ते के बच्चे हैं. किसने कहा था कि हिदुस्तान से  चले जाओ, किसने कहा था, मकान खाली कर दो. जालिम वही है…”

चुनाव आयोग पर सबसे गंभीर आरोप

“इलेक्शन कमीशन तो बीजेपी को चुनाव लड़वा रहा है, बीजेपी का इलेक्शन लड़वा रहा है. देखिए! मोदी ने आज क्या किया. अय़ोध्या में मोदी की तस्वीर पीछे लगाकर वोट मांगा है.”

मोदी ने खून बहाया है

“हमने कारगिल की पहाड़ियों पर लहू देकर कारगिल की पहाडि़यां बचाई हैं और मोदी ने 2002 में इंसानों का खून बहाकर सेक्यूलरिज्म के माथे पर कलंक लगाया है.”

Loading...

Most Popular

To Top