Exclusive

केजरीवाल के शपथ-ग्रहण समारोह में लगे थे 3.31 लाख के फूल

Afroz Alam Sahil for BeyondHeadlines

दिल्ली सरकार के लोक निर्माण विभाग (उधान मंडल एम-314) से आरटीआई के ज़रिए हासिल महत्वपूर्ण दस्तावेज़ बताते हैं कि साल 2015 में 14 फ़रवरी को आयोजित मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के शपथ-ग्रहण समारोह में फूलों की साज-सज्जा एवं गमलों की व्यवस्था पर कुल 3,31,775 रुपये खर्च किए गए थे. जबकि 2013 में 28 दिसम्बर को आयोजित शपथ ग्रहण में यह खर्च सिर्फ 1,27,350 रुपये था.

वहीं दिल्ली सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग से आरटीआई के ज़रिए हासिल दस्तावेज़ों के मुताबिक 2015 में आयोजित शपथ-ग्रहण समारोह में 5,95,601 रूपये खर्च हुए, जिसमें 5,25,364 रुपये विज्ञापन पर, 3 हज़ार रूपये पानी और 67,237 रुपये आमंत्रण पत्र व पार्किंग लेबल के छपाई पर खर्च शामिल है.

वहीं 2013 में आयोजित शपथ-ग्रहण समारोह में कुल 6,64,248 रुपये खर्च किए गए, जिसमें 6,07,091 रुपये विज्ञापन पर, 26,711 रुपये कैटरिंग और 30,446 रुपये आमंत्रण पत्र के छपाई पर खर्च शामिल है.

हालांकि इस समारोह के आयोजन में लोक निर्माण विभाग, दिल्ली जल बोर्ड, स्वास्थ्य विभाग, दिल्ली पुलिस, ऊर्जा विभाग व सूचना-प्रसारण विभाग भी शामिल थे, जिसके खर्चे का हिसाब-किताब अलग हो सकता है.

वहीं आरटीआई के ज़रिए ही हासिल सूचना के अनुसार इससे पहले दिल्ली की मुख्यमंत्री रही शीला दीक्षित के शपथ ग्रहण पर 13,04,366 रुपये खर्च हुए थे. तो वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के शपथ ग्रहण समारोह में कुल 98.33 लाख रुपये खर्च हुए. जबकि  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में यह खर्च 17.6 लाख रुपये था.

आरटीआई से हासिल दस्तावेज़ यह भी बताते हैं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के खांसी और कफ का इलाज बैंगलोर के जिंदल नेचरक्योर इंस्टीट्यूट में चला, जिस पर सामान्य प्रशासन विभाग ने कुल 85,230 रुपये खर्च किए, जिसमें वहां रहने और इलाज कराने में 71,925 रुपये और आने जाने में 13,305 रुपए खर्च शामिल है.

Loading...

Most Popular

To Top