India

‘आतंकवाद’ के आरोप से बरी वासिफ़ के 12 वर्षीय बेटी को जान से मारने की धमकी

child

Farhana Riyaz for BeyondHeadlines

कानपुर : उत्तर प्रदेश के ज़िला कानपुर के हुमायूं बाग में रहने वाले सैय्यद वासिफ़ हैदर की 12 वर्षीय बेटी को जान से मारने की धमकी दी गयी है.

पिता वासिफ़ हैदर के मुताबिक़ उनकी 12 वर्षीय बेटी मनाल जो सेंट मेरी कान्वेंट हाई स्कूल छावनी में कक्षा 6 की छात्रा है, को 27 जनवरी को स्कूल की छुट्टी के बाद जैसे ही वो स्कूल से बाहर आई, एक व्यक्ति ने उसका हाथ पकड़कर उठाने की कोशिश की. इसका बच्ची ने विरोध किया. ऐसे में भीड़ होने की वजह से वो सिर्फ़ इतना कहकर चला गया कि ‘अपने अब्बा से कहो कि केस न लड़ें, वर्ना तुम्हें जान से मार दूंगा. जिसके बाद वो किसी तरह घर वापस आई और घर आते ही बेहोश हो गयी. परिवार वालों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां 2 दिन बेहोश रहने के बाद वह होश में आई और परिवार वालों को सारी घटना के बारे में बताया.

इस 12 वर्षीय बच्ची के मुताबिक़ जिस व्यक्ति ने धमकी दी, उसका हुलिया चेहरा गोल, बाल सीधे सांवले रंग का औसत क़द का व्यक्ति था और उसने धूप का चश्मा लगाया हुआ था.

जिस दिन इस बच्ची के साथ ये घटना हुई वासिफ़ उस दिन दिल्ली गये हुए थे. बेटी की ख़बर मिलते ही वो वापस आ गए और उन्होंने इस मामले में अज्ञात व्यक्ति के ख़िलाफ़ थाना छावनी कानपुर महानगर में शिकायत दर्ज करायी है और अपनी बेटी की सुरक्षा की मांग की है.

वासिफ ने बताया कि उनकी बेटी उस दिन से डर व दहशत में है और स्कूल नहीं गयी है. परिवार वालों को आशंका है कि उसके साथ ये घटना दुबारा घट सकती है.

गौरतलब है कि कानपुर के रहने वाले सैय्यद वासिफ़ हैदर को 31 जुलाई 2001 को अगवा कर ‘आतंकवाद’ के  आरोप में  गिरफ़्तार बताया गया था, पूरे 8 साल जेल में रहने के बाद 12 अगस्त 2009 वासिफ़ हैदर को देश की अदालत ने बाइज्ज़त रिहा कर दिया था. रिहाई के बाद वासिफ़ इन दिनों अपने मुवाअज़े और ज़िम्मेदार पुलिस वालों पर क़ानूनी कार्रवाई को लेकर क़ानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं.

mnaal report

mnaal rport recv

वासिफ़ हैदर की पुरी कहानी आप उन्हीं के ज़ुबानी नीचे पढ़ सकते हैं :

I am Syed Wasif Haider- A Terrorized Terrorist!

Loading...

Most Popular

To Top