India

स्वच्छ भारत के लिए सफाई के साथ सफाई कर्मचारियों पर भी ध्यान दे सरकार -केजरीवाल

Avdhesh Kumar for BeyondHeadlines

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय शहरी विकास, आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्री एम वैंकेया नायडु के एक पत्र के जवाब में कहा कि सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छ भारत अभियान में दो अक्टूबर को कुछ मिनट तक कुछ वीआईपी झाड़ू लगाकर अपने घर चले जाएंगे, लेकिन बाद में तो अंतत: सफाई कर्मचारियों को ही करनी है. आप ने इस अभियान में सरकार का साथ देने के साथ ही कहा कि हमें और सरकार को सफाई कर्मचारियों पर भी ध्यान देने की ज़रुरत है.

बता दें कि एम.वकैंया नायडु ने केजरीवाल को पत्र लिखकर स्वच्छ भारत अभियान में दो अक्टूबर को उनका सहयोग मांगा है. जिसके बदले केजरीवाल ने भी एक पत्र लिखा और कहा कौन भारतीय होगा जो स्वच्छ भारत नहीं चाहता है.

उन्होंने कहा कि कुछ मंत्रिगण फोटो खिलचवाने के लिए झाड़ू लगा रहे हैं. उनके लिए सड़क पर कूड़ा डाला जाता है और फिर झाडू लगाते हैं. फोटो खिचता है और अगले दिन अख़बार में आ जाता है. जबकि इससे स्वच्छ भारत नहीं बनेगा.

उन्होंने कहा कि दिल्ली में सफाई कर्मचारियों की हालत बहुत खराब है. क्योंकि ज्यादातर सफाई कर्मचारी ठेके पर काम कर रहे हैं. और ठेकेदार इनका शोषण करते हैं. 30 साल की नौकरी के बाद भी इन्हें पक्का नहीं किया जाता है. हर छह महीने में इन्हें 10 से 15 हजार रुपए की रिश्वत देनी पड़ती है. वहीं ठेकेदार इनसे 10 हजार रुपये की स्लिप पर हस्ताक्षर करवाता है और देता सिर्फ इनकों चार हजार रुपए  है. ऐसी इनके साथ बहुत सी समस्याएं है. इसलिए इनकों पक्का करना होगा इनकी तनख्वाह बढानी होगी. ठेकेदारों के चिंगूल से बाहर निकालना होगा, और इनको सम्मान देना होगा.

उन्होंने कहा कि सफाई के नाम पर निगम में करोड़ो रुपए खर्च किए जाते हैं. लेकिन इसमें भ्रष्टाचार है. इस भ्रष्टाचार को भी समाप्त करने की ज़रुरत है.

उन्होंने कहा कि यह अभियान दो अक्टूबर ही नहीं बल्कि आम आदमी पार्टी इसे आगे भी जारी रखेगी.

Most Popular

To Top