India

600 ट्रेनें हुईं रद्द, यात्री परेशान… लेकिन अब अगर ट्रेन रद्द हुई तो आपके टिकट का पैसा अपने आप होगा रिफंड

BeyondHeadlines News Desk

रेलवे ने ट्रेनों के रद्द होने पर टिकटों का पैसा स्वत: रिफंड करने का निर्णय किया है. अभी वेटिंग लिस्ट वाले ई-टिकटों में इस तरह के रिफंड की व्यवस्था है.

इस तरह से अगर ट्रेन रद्द हो जाती है तो लोगों को ई-टिकटों के रिफंड के लिए टिकट जमा रसीद (डीडीआर) भरने की जरूरत नहीं होगी. वहीं, दूसरी ओर, काउंटर से बुक कराए गए टिकटों के मामले में यदि ट्रेन रद्द होती है तो सभी आरक्षण काउंटरों पर रिफंड की मौजूदा व्यवस्था बरक़रार रहेगी.

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नई रिफंड प्रणाली जल्द ही अस्तित्व में आ जाएगी, क्योंकि इसके लिए साफ्टवेयर में बदलाव किया जा रहा है.

स्पष्ट रहे कि मध्य प्रदेश के इटारसी स्टेशन के आरआरआई यानी रूटीन रिले इंटरलॉकिंग सिस्टम में आग लगने की वजह से लगभग 600 ट्रेनें रद्द कर दी गईं और तक़रीबन 300 ट्रेनों का रास्ता बदलना पड़ा है. दस दिन पहले लगी आग से पूरा रेल डिविजन अस्त व्यस्त हो चुका है. हालांकि चार रेल मंडलों के चुनिंदा लोगों को मिला कर बनी टीम सिस्टम दुरुस्त करने में लगी हुई है. तक़रीबन 700 इंजीनियर और 300 कर्मचारी लगे हुए है. नए सिस्टम को पूरी तरह चालू करने के लिए 22 जुलाई का लक्ष्य रखा गया है. इंजीनियर और कर्मचारी तीन शिफ्टों में यानी चौबीसों घंटे काम कर रहे है. माना जा रहा है आग की वजह से रेलवे को लगभग 1,000 करोड़ रुपए का नुक़सान हुआ है.

Most Popular

To Top