#2Gether4India

श्री राम के नाम पर देश में हो रही मॉब लिंचिंग व नफ़रत के ख़िलाफ़ इस नौजवान ने शुरू की मुहिम…

BeyondHeadlines Correspondent  

नई दिल्ली: जहां एक तरफ़ देश में एक ख़ास विचारधारा के लोग लगातार नफ़रत फैलाने में लगे हुए हैं, वहीं एक नौजवान लगातार इस नफ़रत के ख़िलाफ़ अपनी एक ख़ास मुहिम #India4All में लगा हुआ है. इस दिलेर व हौसलेमंद नौजवान का नाम है —राहुल कपूर.

राहुल कपूर एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं, जो लगातार गरीबों, हाशिए पर खड़े लोगों व दलितों के लिए काम करते रहे. इन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से सामाजिक कार्य में मास्टर्स किया है और गोल्ड मेडलिस्ट रहे हैं. वर्तमान में जामिया मिलिया इस्लामिया में रिसर्च स्कॉलर हैं.

BeyondHeadlines से ख़ास बातचीत में वो बताते हैं कि मेरा धर्म मुझे दूसरे धर्म के लोगों के ख़िलाफ़ हिंसा करना नहीं सिखाता है. श्री राम के नाम पर दूसरे धर्म के लोगों पर अत्याचार करना और उन्हें मारना ग़लत है. मॉब लिंचिंग के ख़िलाफ़ सख्त से सख्त क़ानून बनना चाहिए.

वो आगे कहते हैं कि मैं एक ऐसे भारत को देखना चाहता हूं, जहां कम से कम श्री राम के नाम पर तो लोगों को न मारा जाए. और जहां भी लोग ऐसा करें, वहां हमारे हिन्दू भाई खड़े हों कि हम मर्यादा पुरषोत्तम राम और अपने धर्म के नाम पर किसी को मारने नहीं देंगे.

राहुल कपूर बताते हैं कि वो विभिन्न संगठनों के साथ मिलकर नई दिल्ली के जंतर-मंतर पर मॉब लिंचिंग के ख़िलाफ़ एक सख्त क़ानून की मांग को लेकर शांतिपूर्ण धरना-प्रदर्शन करेंगे. 

एक लंबी बातचीत में वो बताते हैं कि मेरी मुहिम की शुरूआत 26 जून से हो गई, जब मैं तबरेज़ अंसारी के इंसाफ़ के ख़ातिर एवं देश में बढ़ रही मॉब लिंचिंग के ख़िलाफ़ हो रहे धरना-प्रदर्शन व कैंडल मार्च के लिए जंतर-मंतर गया था. 

वो आगे कहते हैं, जंतर मंतर के लिए मैं घर से अकेले ही निकला था पर जब वहां पहुंचा तो मुझे स्वाति नाम की एक छात्रा मिलीं जो यह संदेश दे रही थी कि “मैं एक हिन्दू हूं और सभी मुसलमान मेरे भाई बहन हैं.” 

वो कहते हैं, पिछले दो दिनों में हम दोनों का यह संदेश लाखों लोगों तक पहुंचा है और यह यही दर्शाता है कि अब श्री राम भी यही चाहते हैं कि सारी दुनिया को पता चले कि उनका नाम लेकर की गईं हत्याएं भी हत्याएं ही हैं और ऐसा करने वाले लोगों को कड़ी से कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए. हालांकि वो ये भी बताते हैं कि 

उन्होंने अपनी मुहिम #India4All सोशल मीडिया पर शुरू करने का ऐलान कर दिया है. साथ ही अपने सभी हिन्दू भाई-बहनों से भी निवेदन किया है कि आप भी अपनी तस्वीर अपने नाम और मॉब लिंचिंग के ख़िलाफ़ एक संदेश के साथ अपने फेसबुक पर अपलोड करें और चाहें तो मुझे भी भेजें. 

राहुल कपूर कहते हैं कि श्री राम का ही नाम लेके अब हमें तबरेज़ और मॉब लिंचिंग में मारे गए बाक़ी सभी लोगों के लिए आवाज़ उठानी है और मॉब लिंचिंग के ख़िलाफ़ सख्त क़ानून बनवाना है. 

राहुल का आख़िरी संदेश सारे रेडिकल सोच रखने वाले लोगों के लिए है, जो हिन्दू मुसलमान भाईचारा नहीं चाहते और जिन्होंने उन्हें पिछले दो दिन में बहुत सी गालियां दी हैं. 

वो कहते हैं, ज़रा एक बार सोचिए कि आपकी सोच में तो सिर्फ़ तोड़ना और नफ़रत है तब आपको अपनी सोच पर इतना गर्व है और आप उसे छोड़ना नहीं चाहते बल्कि मुझ पर थोपना चाहते हैं लेकिन मेरी सोच में तो सिर्फ़ जोड़ना और प्यार है तो मुझे अपनी सोच पर कितना गर्व होगा. आप ग़लत होकर भी अपने आप को बदलना नहीं चाहते तो मैं सही होकर अपने आप को क्यों बदलूं? आप असत्य और हिंसा के मार्ग से हटना नहीं चाहते तो मैं सत्य और अहिंसा के अपने मार्ग से क्यों हटूँ? मेरे साथ तो ऊपर वाला है चाहे फिर आप उसे जिस नाम से भी बुलाते हों वही मुझे निडर होकर अपने सही रास्ते पर चलने की हिम्मत देता है… जय हिंद जय भारत…

बता दें कि इससे पहले BeyondHeadlines ने भी देश में बढ़ रही नफ़रत के ख़िलाफ़ लोगों से अपील की थी कि कुछ अच्छे व सामाजिक लोग आगे आएं. गांव में, क़स्बों में बाहरी लोगों की आमद व रफ़्त पर पूरी नज़र रखें. कुछ भी ग़लत हो रहा हो या अलग हो रहा हो तो उसकी सूचना तुरंत ज़िला से लेकर राज्य व केन्द्र तक पहुंचाएं. याद रखें कि हिंसा का जवाब हिंसा कभी नहीं हो सकता. जब 10 बुरे लोग मिलकर बुरा काम कर सकते हैं तो 10 अच्छे लोग मिलकर अच्छा काम क्यों नहीं कर सकते. वैसे भी हमारा मानना है कि हमारे देश में अच्छे लोगों की तादाद ज़्यादा है.

इसी के मद्देनज़र आपका BeyondHeadlines पिछले कई महीनों से #2Gether4India नामक एक अभियान चला रहा है. इस अभियान में अब तक 100 से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया है, लेकिन अब एक बार फिर से इस अभियान को आगे ले जाने की ज़रूरत है. 

आप भी तमाम निगेटिव बातों को भूलकर याद कीजिए कि आपके दूसरे धर्मों से संबंध रखने वाले जो साथी हैं, उनमें कोई तो अच्छाई होगी. आपकी ज़िन्दगी में कभी तो वो किसी काम आया होगा. बस आप उन्हीं मीठी अच्छी यादों को याद करते हुए अपना एक वीडियो हमें बनाकर भेज दीजिए. वीडियो के अंत में अपना प्यारा सा संदेश देना मत भूलिएगा. आप अपना वीडियो बनाकर [email protected] पर मेल कर सकते हैं…

Loading...

Most Popular

To Top

Enable BeyondHeadlines to raise the voice of marginalized

 

Donate now to support more ground reports and real journalism.

Donate Now

Subscribe to email alerts from BeyondHeadlines to recieve regular updates

[jetpack_subscription_form]